डिलीवरी के बाद की डाइट क्यों होती है खास और एक नई मां को अपनी डाइट में क्या-क्या चीज़ें शामिल करनी चाहिए

डिलीवरी के बाद की डाइट क्यों होती है खास और एक नई मां को अपनी डाइट में क्या-क्या चीज़ें शामिल करनी चाहिए

इसके लिए गार्डेन क्रेस सीड्स, किशमिश, हरी पत्तेदार सब्जियां और आर्गन मीट खाएं

इसके लिए गार्डेन क्रेस सीड्स, किशमिश, हरी पत्तेदार सब्जियां और आर्गन मीट खाएं

ये पोस्टपार्टम डिप्रेशन के लक्षणों को कम करने में भी मदद करता है

ये पोस्टपार्टम डिप्रेशन के लक्षणों को कम करने में भी मदद करता है

इसके लिए ऑयली फिश, अलसी और अखरोट खाएं

इसके लिए ऑयली फिश, अलसी और अखरोट खाएं

प्रेगनेंसी और स्तनपान के दौरान शरीर में कैल्शियम की मांग बढ़ जाती है और ये इसलिए भी जरूरी है

प्रेगनेंसी और स्तनपान के दौरान शरीर में कैल्शियम की मांग बढ़ जाती है और ये इसलिए भी जरूरी है

क्योंकि मां और बच्चे दोनों को इसकी जरूरत होती है

क्योंकि मां और बच्चे दोनों को इसकी जरूरत होती है

इसके लिए, तिल, फलियां, रागी, हरी पत्तेदार सब्ज़ियां, दूध, दही और पनीर खाएं

इसके लिए, तिल, फलियां, रागी, हरी पत्तेदार सब्ज़ियां, दूध, दही और पनीर खाएं

रागी, ज्वार, बाजरा, क्विनोआ, ओट्स, चावल, छोले, राजमा खाएं

रागी, ज्वार, बाजरा, क्विनोआ, ओट्स, चावल, छोले, राजमा खाएं