दो दिन क्यों मनाई जाएगी जन्माष्टमी

दो दिन क्यों मनाई जाएगी जन्माष्टमी

कुछ जगहों पर जन्माष्टमी 18 अगस्त और कुछ लोग 19 को मनाएंगे

कुछ जगहों पर जन्माष्टमी 18 अगस्त और कुछ लोग 19 को मनाएंगे

भगवान श्रीकृष्ण का जन्म कृष्ण पक्ष की रात्रि के आठवें मुहूर्त में हुआ था

भगवान श्रीकृष्ण का जन्म कृष्ण पक्ष की रात्रि के आठवें मुहूर्त में हुआ था

आठवें मुहूर्त की बात करें तो वह 19 अगस्त को है

आठवें मुहूर्त की बात करें तो वह 19 अगस्त को है

आधी रात की बात करें तो वह 18 अगस्त को होगी

आधी रात की बात करें तो वह 18 अगस्त को होगी

18 अगस्त को सप्तमी तिथि रात 09 बजकर 20 मिनट तक रहेगी

18 अगस्त को सप्तमी तिथि रात 09 बजकर 20 मिनट तक रहेगी

19 अगस्त को रात 10 बजकर 59 मिनट तक रहेगी

19 अगस्त को रात 10 बजकर 59 मिनट तक रहेगी

ज्योतिष के हिसाब से 19 अगस्त को जन्माष्टमी मनाना अच्छा रहेगा

ज्योतिष के हिसाब से 19 अगस्त को जन्माष्टमी मनाना अच्छा रहेगा