Parenting Tips: काई बार जरूरत से ज्यादा लाड़-प्यार में बच्चें बिगड़ जाते हैं। वो अपनी बात मनवाने के लिए बात-बात पर जिद करने लगते हैं और किसी की बात सुनते समझते नहीं हैं। माँ-बाप भी बच्चा समझकर पहले तो जाने देते हैं लेकिन जब उनकी यही जिद बहस में बदल जाती है तब दिक्कत होने लगती है। बच्चे फिर किसी भी नहीं सुनते उल्टा जवाब देने लगते हैं और कई बार बाहरी लोगों के सामने शर्मिंदा होना पड़ता है। ऐसे में हम आपको बच्चों के इस व्यवहार को बदलने के लिए कुछ टिप्स बता रहे हैं।

-जब बच्चा किसी बात की जिद करने लगे और हर हाल में अपनी बात मनवाना चाहे तो ऐसे में शांत होकर बच्चे की बात सुने-समझे। उसके बाद बिना डांटे बच्चे को प्यार से समझाए की वो जिस चीज की जिद कर रहा है वो सही क्यों नहीं हैं या उसे पूरा क्यों नहीं किया जा सकता। बच्चा समझ जाए तो उसे शाबाशी दें।

-कई बार बच्चों की बात सुनने के बाद माँ-बाप जबरदस्ती अपनी बातें बच्चों पर थोपने लगते हैं। ऐसा बिल्कुल भी न करें इससे वो और अड़ियल और जिद्दी बनेंगे। इसके बजाय आप बच्चों के सामने विकल्प रखें की वो जिस बात की जिद कर रहे हैं उससे समस्याएं हो सकती हैं, ऐसे में वो उसकी बजाय दूसरे विकल्पों के लिए जा सकते हैं।