Vastu Tips: कई बार हम आड़े-तिरछे कैसे भी होकर बिस्तर पर लेट जाते हैं और वैसे ही सो जाते हैं। ऐसा लगातार करते रहने से हम परेशानियों में घिरते चले जाते हैं। दरअसल, वास्तु शास्त्र में दिशाओं को लेकर काफी कुछ बताया गया है हर दिशा से जुड़े कुछ शुभ-अशुभ प्रभाव होते हैं। जो हमारे जीवन पर सीधा असर डालते हैं। आज हम आपको इस आर्टिकल में सोने की दिशा को लेकर कुछ बातें बता रहे हैं।

-वास्तु शास्त्र के अनुसार, गलती से भी दक्षिण दिशा में पैर करके नहीं सोना चाहिए। यह दिशा यमदूत की मानी जाती है और इस तरफ सोने से गंभीर रोग हो सकते हैं। ऐसे में इस दिशा में पैर करके सोने से बचना चाहिए।

-दक्षिण दिशा के अलावा पूर्व दिशा में पैर करके सोने से जीवन में जटिलताएं घेरने लगती हैं। पूर्व दिशा में सूर्य की ऊर्जा का प्रभाव अधिक रहता है ऐसे में इस दिशा में पैर करके सोने से सूर्य देव नाराज हो सकते हैं। सूर्य देव का आशीर्वाद चाहते हैं तो पूर्व दिशा में पैर करके सोने से बचे।

-अगर सोने की सही दिशा की बार करें तो वास्तु में उत्तर दिशा या पश्चिम दिशा में पैर करके सोना बताया गया है। जहां उत्तर में पैर करके सोने से सुख, समृद्धि, धन और दीर्घायु की प्राप्ति होती है। वहीं पश्चिम दिशा में पैर करके सोने से ज्ञान की प्राप्त होता है।