Deepak Rules: हिंदू धर्म में देवी-देवताओं की पूजा के लिए दीपक जलाना आवश्यक माना जाता है। धरणा है कि दीपक जलाए बिना भगवान की पूजा पूरी नहीं मानी जाती है। इसके साथ ही घर में दीपक प्रज्वलित करने से वास्तु दोष समाप्त हो जाते हैं। वहीं रोजाना ऐसा करने से कई दोषों से मुक्ति मिलती है। तो आइए आज हम इस बात पर विचार करते हैं कि किस जगह पर दीपक जलाना फलदायक साबित होता है।

माना जाता है कि रोजाना पीपल के पेड़ की जड़ में जल चढ़ाने और घी के दीपक जलाएं से हमारे पूर्वज प्रसन्न होते हैं। कहा तो यहां तक जाता है कि पितरों का आशीर्वाद पाने के लिए घर की दक्षिण दिशा में भी एक दीपक अवश्य जलाना जरूरी होता है।

ऐसा कहतो हैं कि किचन के चूल्हे के दोनों ओर एक−एक दीपक जलाने से अन्न की कमी नहीं होती। इसके अलावा शुक्रवार के दिन शाम के वक्त घर के ईशान कोण में दीपक रखने से मां लक्ष्मी की कृपा बरसती है। लेकिन घी गाय का होना चाहिए। दीपक में लाल रंग के धागे की बाती का उपयोग करें।

सुख-समृद्धि पाने के लिए अपने घर के मेन गेट के बाहर रोजाना सुबह-शाम दीपक जरूर जलाएं। लेकिन इस दीपक में तोल सरसों का ही डालें। इससे आने वाली विपत्ती बाहर से ही लौट जाएगी।