Coronavirus Vaccine: कोरोना से पूरी दुनिया में तबाही मचने के बाद अब धीरे-धीरे हालात सामान्य होने लगे हैं। अच्छी बात ये रही की कोरोना वैक्सीन का निर्माण हो गया गया और इससे हालातों पर काफी हद तक काबू पाया गया। भारत में भी युद्ध स्तर पर वैक्सीन लगवाई गईं। इसी को लेकर सोशल मीडिया पर एक मैसेज वायरल हो रहा है, जिसमें ये दावा किया जा रहा है कि कोरोना वैक्सीन लगवाने वालों को पांच हजार रुपये दिए जा रहे हैं। चलिए जानते हैं इस दावे में कितनी सच्चाई है।

कोरोना काल का मंजर याद करके हर कोई सहम जाता है। दो साल से अधिक समय तक इसने दुनिया के लगभग सभी देखों में कहर बरपाया जिसमें लाखों लोगों की जान चली गई थी। हालांकि, 2 साल बाद ही सही लेकिन कोरोना वैक्सीन के इजाद से सबने राहत की सांस ली। हाल में कोरोना वैक्सीन लगवाने वालों के लिए दावा किया जाने लगा कि जिन्होंने टीका लगवाया है सरकार उन्हे 5000 रुपये दे रही है।

इसपर पीआईबी फैक्ट चेक ने ट्वीट करके जानकारी दी कि यह दावा पूरी तरह से फर्जी है। वैक्सीन लगवाने वालों को न तो कोई फॉर्म भरना है न सरकार उन्हे पांच हजार रुपये दे रही है। इस तरह के मैसेज अक्सर सोशल मीडिया पर वायरल हो जाते हैं जब तक इसकी सच्चाई सामने आती है तब तक कई लोगों का नुकसान हो जाता है।