How to make Besan at Home: भारतीय घरों में बेसन का उपयोग आमतौर पर होता ही रहता है। बेसन से विभिन्न प्रकार के व्यंजन जैसे मिठाई, सब्जी, बूंदी, पकोड़े आदि बनते हैं। लेकिन क्या आपने कभी गौर किया है आपके घर में बाजार से आने वाला बेसन जिसको आप खाने में प्रयोग कर रहे है वो कितना शुद्ध है कितना नहीं? त्योहारों के समय में बेसन की डिमांड बढ़ जाती है ऐसे में मिलावटी बेसन भी खूब धड़ल्ले से बिकता है। ऐसे में बेसन की शुद्धता आप आसानी से घर पर जांच सकते हैं इसके अलावा आप घर पर बेसन बना भी सकते हैं।

बेसन को सूखे पिसे बंगाल चना या काला चना से बनाया जाता है। बेसन का प्रयोग ग्रेवी को गाढ़ा करने के काम आता है और इसमें कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन, फाइबर भरपूर मात्रा में पाया जाता है। वहीं चना दाल से बना बेसन मिठाइयों को बनाने में काम आता है।

असली बेसन की पहचान करने के लिए:- एक कटोरी में 2 चम्मच नींबू का रस, 2 चम्मच हाइड्रोक्लोरिक एसिड डालकर मिलाए। इसको बेसन में डालकर 10 मिनट के लिए छोड़ दें। बेसन का रंग लाल या भूरा हो जाए तो समझे इसमें मिलावट है।