Home Remedies for Cracked Heels : भारतीय रसोई में कुछ ऐसे सामान हैं, जिन्हें हम अपनी ब्यूटी को निखारने के लिए उपयोग में ला सकते हैं। ऐसा ही एक उदाहरण है सरसों का तेल। खाना पकाने के लिए इस्तेमाल किये जाने वाले इस तेल में स्वास्थ्य संबंधी कई राज छिपे हुए हैं। फटी एड़ियों और भंगुर नाखूनों के इलाज के लिए ये रामबाण घरेलू नुस्खा माना जाता है। सर्दियों के दौरान फटी एड़ी एक परेशान करने वाली समस्या है। कई एक्सपर्ट्स का कहना है कि आप फटी हुई एड़ी को अलविदा कहने के लिए सरसो का तेल बेहद फायदेमंद होता है।

आप फटी एड़ियों के इलाज में बेकार मोमबत्तियों का उपयोग कर सकते हैं। मोमबत्ती के मोम को बराबर मात्रा में सरसों के तेल के साथ गर्म करके एक मिश्रण बनाएं ताकि यह एक गाढ़ा घोल बन जाए। इस मिश्रण से अपनी फटी एड़ियों को भरें और अपनी एड़ी को चिकना बनाने के लिए सूती मोजे पहनकर सोएं। सरसों के तेल में एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-फंगल और एंटी-वायरल गुण होते हैं।

इसके अलावा आप फटी हील्स के लिए ग्लिसरीन और सरसो का भी मास्क यूज कर सकती हैं। ये नुस्खा अपनाने कसेक्रैक हील्स के घावों में आराम पहुंचता है। ग्लिसरीन त्वचा में मॉइश्चर को लॉक करती है। इसलिए ग्लिसरीन और सरसो के तेल का कॉम्बिनेशन बेहतर माना जाता है।