Bank Locker Rules:भारतीय रिजर्व बैंक ने ग्राहकों की सेफ्टी के लिए लॉकर से जुड़े नियमों में कुछ बदलाव किए हैं। जिन लोगों ने बैंक लॉकर या सोना चांदी जैसे अन्य सामानों को भी बैंक लॉकर में रखा हुआ है ऐसे लोगों को यह खबर फायदेमंद हो सकती है। आरबीआई के अनुसार बैंक में लॉकर लिए हुए लोगों की ओर से ज्यादातर चोरी के मामले की शिकायत मिलती रहती है।

नोटिफिकेशन के मुताबिक अगर अब ग्राहकों के लॉकर से कोई भी सामान चोरी होता है तो ऐसे में बैंक को इसका भुगतान करना। बताया जा रहा है कि बैंक अपने ग्राहकों को लॉकर किराए का 100 गुना मुआवजा लेना पड़ेगा। आरबीआई की ओर से दिए गए आदेश की माने तो बैंकों को खाली हुए लॉकर के लिस्ट और वेटिंग लिस्ट नंबर डिस्प्ले पर लगाना जरूरी है। आरबीआई का मानना है कि ऐसा कदम उठाने से ग्राहकों को बैंक अंधेरे में नहीं रख पाएंगे।

इसके साथ ही अगर किसी भी ग्राहक के लॉकर का एक्सेस होने पर बैंक के जरिए उसके ईमेल और मोबाइल नंबर पर एसएमएस भेज दिया जाएगा। इसकी वजह से लोग धोखाधड़ी मामलों से बच पाएंगे। नियमों में किए गए बदलाव के मुताबिक लॉकर रूम में सभी के लिए सीसीटीवी कैमरे से निगरानी की जाएगी। इसके साथ ही 180 दिनों तक के सीसीटीवी के फोटोज को सेव रखा जाएगा। ऐसा करने से किसी प्रकार के चोरी या घटना होने पर पुलिस इस सीसीटीवी फुटेज के द्वारा जांच पड़ताल कर पाएगी।