Bank Locker: हर किसी के पास कुछ न कुछ महंगे गहने जरूर होते हैं। कुछ लोग इनवेस्टमेंट के लिए भी गहने खरीदते हैं वहीं कुछ लोग शौक के लिए गहने खरीदते हैं। लेकिन बड़ा सवाल ये आता है की इन गहनों को सुरक्षित कैसे रखा जाए। घर में महंगी ज्वैलरी रखने पर हर समय चोरी का डर लगा रहता है। घर छोड़कर कहीं नहीं जा सकते। अगर बैंक लॉकर की बात करें तो हर किसी के लिए बैंक लॉकर में ज्वैलरी रखना आसान भी नही होता। हम आपको बताने जा रहे हैं बिना बैंक लॉकर के घर में ज्वैलरी कैसे सेफ रख सकते हैं।

घर में रखे गहनों को सेफ रखने के लिए ज्वैलरी का इंश्योरेंस कवर लें। ज्वैलरी की सुरक्षा के लिए बीमा कंपनियां दो तरह की पॉलिसी देती हैं। पहली स्‍टैंडएलोन ज्वैलरी पॉलिसी दूसरी होम इंश्योरेंस पॉलिसी। गहने चोरी होने की दशा में होम इंश्योरेंस पॉलिसी में पूरा वैल्यू नहीं मिल पाता है जबकि स्‍टैंडएलोन पॉलिसी गहनों की पूरी बीमा सुरक्षा उपलब्ध कराती है।  

बीमा पॉलिसी लेने से पहले ज्वैलरी का मार्केट वेल्युएशन किसी ऑथराइज्ड ज्वैलरी की दुकान से जरूर पता कर लें। बता दें, ज्वैलरी पर बीमा का प्रीमियम बहुत महंगा नही होता है। कंपनियां ज्वैलरी बीमा के लिए 10 लाख रुपये सम एश्योर्ड पर 10,000 रुपये प्रीमियम लेती है। इसके साथ ही अगर आप और भी किसी समान पर कवर लेते हैं तो बीमा कंपनी प्रीमियम में छूट भी देती हैं। पॉलिसी लेने से पहले उसके नियम और शर्ते जरूर जान लें।